NoFicker

नो फ़िकर एक संस्था या संगठन होने के साथ.साथ एक सोच है जो नकारात्मकता के परिवेश के मध्य सकारात्मक विचार एवं कार्य करने हेतु आम जन.मानस को लालायित करती हैए नो. फ़िकर संस्था का सबसे अहम् कार्य सागर एवं दमोह क्षेत्र में शासकीय योजनाओं के प्रचार.प्रसार के साथ.साथ समाज में व्याप्त भ्रम.जाल के प्रति शहरी एवं ग्रामीण नागरिकों को जागरूक करना हैण् पत्रकारिता के ध्येय वाक्य “ TO INFORM, TO EDUCATE AND TO ENTERTAIN ” की तर्ज़ पर नो फ़िकर संस्था के न्यूज़ पोर्टल एवं यू.टयूब चैनल के माध्यम से आप सभी के समक्ष उपरोक्त तीनों के समावेश को प्रस्तुत किया जा रहा है...
सूचनाओं पर नज़र डालें तो पाएंगे कि नो फ़िकर वेबसाइट के माध्यम से आपको लिखित रूप में तथा नो फ़िकर यू.ट्यूब चैनल के माध्यम से दृश्य.श्रव्य माध्यम में आपको समाचार उपलब्ध हो रहे हैण् जिसके अंतर्गत हमारे देश भारत एवं प्रदेश मध्यप्रदेश में वर्तमान सरकार की बदलती नीतियों से लेकर विपक्ष के तीख़े भाषणों तक का यथार्थ सत्य प्रस्तुत किया जा रहा हैए इसी के साथ विदेश में हो रहे बदलावए व्यापार की उथल.पुथलए सिनेमायी समीक्षाए खेल की भाग.दौड़ का सम्पूर्ण ब्यौरा बतलाया जा रहा है, ये तो हुई राष्ट्रीय.अंतराष्ट्रीय भागम.भाग की बात किन्तु क्षेत्रीय समाचारों की ख़बर भी हर नागरिक को आकर्षित करती है जिसके अंतर्गत सागर एवं दमोह जिलों की 10 विधानसभा क्षेत्रों के समाचार एवं आम नागरिकों के मध्य शासकीय नीतियों के सत्य को उजागर किया जा रहा है.
शिक्षा की बात करें तो वर्तमान दौर में शिक्षा व्यापार में तब्दील होती जा रही है तथा उच्च शिक्षा प्राप्ति में गरीब एवं मध्यम वर्गीय परिवार के छात्रों को काफ़ी मशक्कत का सामना करना पड़ रहा हैए जिस हेतु नो फ़िकर की डिजिटल शिक्षा छात्र.छात्राओं को घर बैठे सागर एवं दमोह क्षेत्र के शिक्षकों तथा विषय विशेषज्ञों द्वारा पोर्टल में लिखित एवं चैनल में वीडियो के माध्यम से ज्ञानवर्धक मार्गदर्शन प्रस्तुत कर रहा है.
मनोरंजन की बात करें तो सर्वाधिक लोकप्रिय माध्यम दृश्य.श्रव्य माध्यम अर्थात वीडियो है जिसके अंतर्गत बुंदेलखंड क्षेत्र की भाषा बुन्देली एवं ग्रामीण परिवेश में लघु.वृत्तचित्र निर्मित कर सकारात्मक तथा प्रेरणादायक सन्देश के साथ जन सामान्य के मध्य प्रस्तुत किये जा रहा है,
आज की डिजिटल दुनिया में सारा जहाँ इन्टरनेट के माध्यम से एक छोटे से बक्से या कहें मोबाइल फ़ोन में सिमट गया हैए इसी तारतम्य में नो फ़िकर भी बच्चों और युवाओं के लिए शिक्षाए रोजगारए यात्रा एवं तकनीक का मार्गदर्शन प्रस्तुत कर रहा हैए वहीं महिलाओं को सजग एवं सबल करने हेतु नारी.शक्तिए ब्यूटी.टिप्सए खाना.खज़ाना एवं घरेलू नुस्ख़े उपलब्ध करा रहा हैए  बात जब सभी वर्गों को डिजिटल करने की है तो हमारे बुजुर्ग क्यों पीछे रहें अर्थात नो फ़िकर पर धर्म एवं स्वास्थ्य का ज्ञान भी उपलब्ध हो रहा है.
आपसे विनम्र अनुरोध है कि केवल नो फ़िकर का परिचय पढ़ने मात्र के उपरांत एक भोले.भाले वोटर की भांति हमारी बातों पर आँख मूँद कर भरोसा ना करें बल्कि हमारे कार्यों को देखेंए समझेंए परखें और उसके उपरांत अपनी राय कायम करें ..!