खीरा खाने के फायदे अनेक लेकिन नुकसान भी कम नहीं

खीरा खाने के फायदे अनेक लेकिन नुकसान भी कम नहीं
जी हां. जिन लोगों को साइनसाइटिस की बीमारी होती है उन्हें खीरे से परहेज करने की सलाह दी जाती है. इसके पीछे कारण यह है कि खीरे की तासीर ठंडी होती है.  ऐसे में अगर साइनसाइटिस से पीड़ित लोग इसका सेवन करेंगे तो उनकी समस्या बढ़ सकती है.
यूं तो खीरा खाने के अनेकों फायदे होते हैं. खीरे में कई तत्व ऐसे पाए जाते हैं जो सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद होते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं कि खीरा खाने के कई नुकसान भी होते हैं.
 
जी हां. जिन लोगों को साइनसाइटिस की बीमारी होती है उन्हें खीरे से परहेज करने की सलाह दी जाती है. इसके पीछे कारण यह है कि खीरे की तासीर ठंडी होती है.  ऐसे में अगर साइनसाइटिस से पीड़ित लोग इसका सेवन करेंगे तो उनकी समस्या बढ़ सकती है.
 
हालांकि गर्भवती महिलाओं को खीरे के सेवन की सलाह दी जाती है लेकिन ज़रूरत से ज़्यादा खीरे के सेवन से मूत्रत्याग के लिए बार-बार जाना पड़ सकता है. कारण, खीरे में पानी की मात्रा बहुत अधिक होती है. बार-बार गर्भवती महिलाओं के लिए मूत्रत्याग के लिए जाना असुविधाजनक हो सकता है.
 
अगर आप खीरे का ज़्यादा मात्रा में सेवन करते हैं तो आपका पेट भरा हुआ महसूस होता है. खीरा फाइबर का अच्छा स्रोत है लेकिन ज़्यादा खाने से आपको डाकरें आ सकती हैं और दर्द का अनुभाव भी हो सकता है. इसलिए खीरा खाएं लेकिन सिर्फ इसलिए कि सेहत के लिए अच्छा होता है यह मानकर खाते ही ना रहें. अच्छे से धुलकर पारम्परिक तरीके से कड़वाहट दूर कर इस गर्मी खीरे का सेवन करें.