क्या सेब को छीलकर खाना ठीक होता है?

क्या सेब को छीलकर खाना ठीक होता है?
भले ही सेब को छीलकर खाना मॉडर्न लगता हो, लेकिन इसे छीलकर खाने का कोई फायदा नहीं है. सेब के छिलके में ही ज्यादातर पौष्टिक चीजें होती हैं. सेब को छिलके के साथ ही खाना चाहिए. क्योंकि इसके छिलकों में काफी मात्रा में ऐसे तत्व होते हैं, जो शरीर के लिए बहुत जरूरी हैं.
कुछ वैज्ञानिकों ने पाया है कि छिलके में सेब के अंदरूनी हिस्से के मुकाबले ज्यादा मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट होते हैं. एंटी-ऑक्सीडेंट ही वो तत्व हैं जो शरीर को रोगमुक्त रखने में मदद करते हैं. यही नहीं, सेब के छिलके में लगभग उतना ही फाइबर होता है जितना सेब के अंदर के हिस्से में होता है. इसलिए सेब को छिलके सहित खाने में दोगुना फायदा
हफिंग्टन पोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक, जब आप सेब को छिलके के साथ खाते हैं तो आपको 4.4 ग्राम फाइबर मिलता है, लेकिन अगर आप इसका छिलका उतार कर खाते हैं तो मात्र 2.1 ग्राम फाइबर ही मिलेगा.
 
ये हैं छिलके सहित सेब खाने के फायदे
 
सेब के छिलके में मौजूद ये फाइबर कब्ज की समस्या को दूर करने में मददगार साबित होता है.
 
सेब के छिलके के फायदे- यूनिवर्सिटी ऑफ इलिनोइस के मुताबिक, सेब के छिलकों में पोटेशियम, कैल्शियम, फोलेट, आयरन और फास्फोरस मौजूद होता है. ये सभी मिनरल्स हड्डियों को मजबूत करने के साथ-साथ शरीर को अलग-अलग तरह से फायदा पहुंचाते हैं. 
इसके अलावा सोल्यूबल फाइबर ब्लड शुगर के स्तर को नॉर्मल रखता है. शरीर में न्यूट्रिएंट्स के एब्जोर्प्शन को स्थिर रखता है. साथ ही कोलेस्ट्रोल को भी कम करने में कारगर साबित होता है.
 
विटामिन- एक सेब के छिलके में 8.4 मिलीग्राम विटामिन-सी और 29.4 माइक्रोग्राम विटामिन-ए पाया जाता है. लेकिन सेब का छिलका निकालने पर उसमें केवल 6.4 मिलीग्राम विटामिन-सी और 18.3 ग्राम विटामिन-ए ही रह जाता है.
 
बता दें, पूरे सेब में मौजूद विटामिन-सी की लगभग आधी मात्रा इसके छिलके में ही होती है. इसलिए सेब को हमेशा छिलके के साथ ही खाएं. 
कैंसर से बचाव- साल 2007 में सामने आई 'कॉर्नेल यूनिवर्सिटी' की एक स्टडी की रिपोर्ट के मुताबिक, सेब के छिलके में triterpenoids कंपाउंड पाए जाते हैं. ये कंपाउंड कैंसर पैदा करने वाले सेल्स को नष्ट कर देते हैं.
 
'अमेरिकन इंस्टीट्यूट फॉर कैंसर रिसर्च' के मुताबिक, सेब में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं, जो फेफड़ों में कैंसर के खतरे को कम कर देते हैं.
 
सांस की समस्या दूर- एक स्टडी की रिपोर्ट में बताया गया था कि जो लोग एक हफ्ते में लगभग 5 या इससे ज्यादा सेब खाते हैं उनके फेफड़े ज्यादा अच्छी तरह से काम करते हैं. साथ ही इससे अस्थमा होने की संभावना भी बेहद कम हो जाती है.
 
वजन कम होना- जो लोग अपना वजन कम करना चाहते हैं, उन्हें छिलकों के साथ ही सेब खाना चाहिए. दरअसल, सेब के छिलके में अर्सोलिक एसिड पाया जाता है. ये मांसपेशियों पर मौजूद फैट को बढ़ाता है, जो कैलोरी को कम कर के मोटापे को दूर करने में मददगार साबित होता है.